आर्थिक विकाश

Get Started. It's Free
or sign up with your email address
Rocket clouds
आर्थिक विकाश by Mind Map: आर्थिक विकाश

1. परिभाषा

1.1. आर्थर ल्युइस के अनुसार, "विकाश का सम्बन्ध केवल उस प्रक्रिया से है जिसके द्वारा अधिक उत्पादन एवं सेवाएँ उपलब्ध होती हैं।"

1.2. मीयर एवं बाल्डविन के अनुसार, "आर्थिक विकाश एक प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक अर्थवयवस्था की वास्तविक राष्ट्रीय आय में दीर्घकाल तक वृद्धि होती हैं।"

2. अर्थ

2.1. आर्थिक विकाश का आशय निम्न आय वाले अल्प विकशित राष्ट्रों को उच्च आय वाले विकशित राष्ट्रों में परिवर्तित करने की प्रक्रिया से हैं।

2.2. विकाश कितने प्रकारों का हो सकता है। जैसे- सामाजिक विकाश, राजनीतिक विकाश , आर्थिक विकाश इत्यादि। आर्थिक विकाश भी इन्हीं मैं से एक हैं।

2.3. आर्थिक विकाश मैं देश की सामाजिक , राजनीतिक , सांस्कृतिक , नैतिक , तथा आर्थिक कारक भी हो सकता हैं।

3. विशेषता

3.1. एक प्रक्रिया

3.1.1. उत्पादन साधनों की पूर्ति , पूँजी के संचय , नवीन उत्पादन तकनीक , जनसंख्या वृद्धि , आदि संस्थागत परिवर्तन पर निर्भर है।

3.1.1.1. संरचनात्मक तथा संस्थागत कारकों में परिवर्तन के द्वारा अर्थव्यवस्था में निरन्तर प्रति व्यक्ति वास्तविक आय बढ़ते रहने से है।

3.1.2. वस्तुओं के माँग संरचना में परिवर्तन से , आय का स्तर , तथा वितरण और रुचि में परिवर्त्तन होना है।

3.2. जनसंख्या में वृद्धि

3.2.1. जनसंख्या में निरन्तर को भी आर्थिक विकास का प्रमुख लक्षण मन जाता है।

3.2.2. जनसंख्या वृद्धि से , वस्तुओं का उत्पादन में वृद्धि , वस्तुओं की मांग में वृद्धि , बाजार में वृद्धि , आय में वृद्धि , प्रति व्यक्ति आय में परिवर्तन का होना।।

3.3. दीर्घकालीन वृद्धि

3.3.1. प्रति व्यक्ति वास्तविक आय में दीर्घकालीन रूप में लगातार बढ़ते रहने की प्रवृति हो।

3.4. राष्ट्रीय आय व प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि

3.4.1. प्रो. किंडलबर्जर के अनुसार, जिस प्रकार एक बच्चे के विकाश के मापन में मात्र ऊँचाई का अध्यन पर्याप्त नही है बल्कि उसके वजन , आकृति , योग्यता लार ध्यान देना होता है , उसी प्रकार किसी राष्ट्र के आर्थिक विकास के मापन के लाइट मात्र राष्ट्रीय आय में वृद्धि का अध्यन त्रुटिपूर्ण होगा।।

4. आर्थिक विकाश के मापदंड

5. आर्थिक वृद्धि का अर्थ

5.1. शुमपीटर , श्रीमती हिक्स के अनुसार , आर्थिक वृद्धि का सम्बन्ध विकसित राष्ट्रों से होता है , और आर्थिक विकाश का सम्बन्ध अल्प - विकसित राष्ट्रों से होता हैं।

5.2. आर्थिक दृष्टि मैं जब कोई राष्ट्र अधिक धन का उत्पादन करता है तो इसे आर्थिक वृद्धि कहते हैं।

5.3. किसी देश को तब ही वृद्धि करता कहा जायेगा । जबकि इसकी जनसंख्या बाद रही हो।

5.4. राष्ट्रीय आय तथा प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि को आर्थिक वृद्धि कहते हैं।